EPFO New Message for EPF Member, दुरुपयोग रोकने के लिए नियम बदलें

EPFO Subscriber Alert  2022 उन सभी कर्मचारियों के लिए एक महत्वपूर्ण नया पीएफ नियम ( PF Rule ) पेश किया गया है ! जिनके पास मौजूदा भविष्य निधि  खाता ( PF Account ) है ! केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए नए नियमों के मुताबिक ईपीएफओ ( Employees Provident Fund Organisation ) के ग्राहक के पीएफ खाते को दो अलग-अलग खातों में बांटा जाएगा !

EPFO New Message Alert

वित्त मंत्रालय ने कहा है कि यह निर्णय कर उद्देश्यों के लिए लिया गया है ! और इसके बारे में आयकर विभाग को सूचित किया है ! इस बदलाव के तहत सालाना 2.5 लाख रुपये से अधिक के कर्मचारी योगदान से पीएफ खाते ( PF Account ) की आय पर नया कर लगाया जाएगा ! ईपीएफओ ( Employees Provident Fund Organisation ) में नए नियम के अनुसार, केंद्र ने उपरोक्त सीमा से अधिक पीएफ योगदान से संबंधित कर योग्य ब्याज की गणना के लिए धारा 9डी डाला है !

वित्त मंत्रालय ने आगे अधिसूचित किया कि ईपीएफओ के ग्राहकों के लिए इस नए नियम को आयकर (25वां संशोधन) नियम 2022 कहा जाएगा ! और वे 1 अप्रैल, 2022 से लागू होंगे ! यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि यह टैक्स उन लोगों पर लगाया जाएगा जिनका पीएफ में सालाना 2.5 लाख रुपये से ज्यादा योगदान है !

Employees Provident Fund Organisation

इस प्रकार सभी मौजूदा ईपीएफओ खातों को दो अलग-अलग खातों में विभाजित किया

EPFO new message for EPF member
imageSource-canva/youtube

जाएगा- कर योग्य और गैर-कर योग्य जमा खाते ! नए नियम 31 अगस्त, 2021 को वित्त मंत्रालय में पेश किए गए थे और अगले साल से लागू होंगे !

ईपीएफओ ( EPFO ) के इस नए नियम के लागू होने के बाद हर कर्मचारी के पास दो पीएफ खाते ( PF Account ) होंगे ! जमा किए गए ब्याज के पैसे के लिए एक खाता होगा, जिस पर कोई कर नहीं लगेगा ! दूसरे पीएफ खाते में जमा की गई राशि दिखाई देगी जिस पर कर देय है !

दुरुपयोग रोकने के लिए नियम बदलें (EPFO New Message Alert)

इस नए ईपीएफओ नियम का मुख्य उद्देश्य उच्च आय वाले! कर्मचारियों को सरकारी कल्याणकारी योजनाओं का दुरुपयोग करने से रोकना और सभी के लिए आयकर को उचित बनाना है ! यह उच्च आय वाले व्यक्तियों को गारंटीकृत ब्याज के रूप में कर-मुक्त राशि एकत्र करने से रोकेगा !

गौरतलब है कि 2.5 लाख रुपये की सीमा सिर्फ गैर सरकारी कर्मचारियों के लिए तय की गई है ! सरकारी कर्मचारियों के लिए यह सीमा 5 लाख रुपये रखी गई है. सभी कर्मचारियों के लिए पीएफ खाते ( PF Account ) के ब्याज की गणना वार्षिक आधार पर बैंक ब्याज के समान दर पर की जाती है ! इस EPFO ​​( Employees Provident Fund Organisation ) नियम की अधिक जानकारी वित्त मंत्रालय द्वारा जल्द ही जारी की जाएगी !

ईपीएफ ब्याज क्रेडिट

ईपीएफओ वेबसाइट के माध्यम से पर जाएं !
कर्सर को सर्विसेज सेक्शन में ले जाएँ और For Employees पर क्लिक करें !
अब मेम्बर पासबुक इन सर्विस पर क्लिक करें !
अब UAN नंबर, पासवर्ड और कैप्चा भरकर नए खुले हुए पेज में लॉग इन करें !
नए पेज पर अपनी सदस्य आईडी यानी पीएफ खाता संख्या चुनें !
पासबुक देखें पर क्लिक करें !
यहां आपको ईपीएफ खाते में शेष राशि से संबंधित पूरी जानकारी मिल जाएगी और आप ब्याज भी देख पाएंगे !

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organisation ) द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 6.47 करोड़ पीएफ खातों में ब्याज जमा किया गया है ! शेष खातों में ब्याज के हस्तांतरण की प्रक्रिया भी प्रगति पर है ! EPFO ने ट्वीट के जरिए यह बात कही है ! ईपीएफओ का कहना है कि पीएफ खाते ( PF Account ) में ब्याज क्रेडिट को लेकर अगला अपडेट 15 नवंबर को जारी किया जाएगा !

वित्त वर्ष 2022-22 के लिए भविष्य निधि पर 8.50 फीसदी ब्याज तय किया गया है ! अगर आपका भी पीएफ खाता है और आप उसमें नियमित आधार पर पीएफ बैलेंस चेक करते हैं या नोट करते हैं ! तो ईपीएफओ का ब्याज आपके खाते में जमा हुआ है या नहीं, यह बैलेंस चेक के जरिए पता चलेगा |

Leave a Comment